पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी से उठे आक्रोश में देश के कई शहरों से आई हिंसा की खबरेँ

पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने से उपजा आक्रोश जुमे की नमाज के बाद देश के कई शहरों में प्रद्रशन शुरू होगये एक खाश समुदाय के लोग इकठा होके नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग करने लगे. पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी से पूरे देश में गुस्से का माहौल था. और जब शुक्रवार को कई राज्यों में यह एक साथ फूट गया. 10 जून को लोग जुमे की नमाज के बाद सड़कों पर उतर आए. देखते ही देखते यह विरोध कई जगहों पर उपद्रव में बदल गया. इसी बीच प्रयागराज के अटाला इलाके में भी हिंसा दर्ज की गई है पुलिस फोर्स की कई गाड़ियों को उपद्रवीयो ने आग के हवाले कर दिया है।

प्रयागराज के इटावा चौराहे पर शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हिंसा भड़की और इस हिंसा पे एसएसपी अजय कुमार ने मिडिया से बातचीत करते हुए ये बताया कि उपद्रव करने के आरोप में खुल्दाबाद थाना में 29 गंभीर धाराओं में 70 लोगो को नामजद किया गया है और 5000 से अधिक अज्ञात लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है.

प्रयागराज के डीएम ने ये बताया कि असामाजिक तत्वों ने पुलिस व प्रशासन की टीमों पर हमले करने के लिए नाबालिग बच्चों का इस्तेमाल किया गया है. उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर भी कड़ी नजर रखी गई है. और कुछ वीडियो फुटेज से पहचान कर के गिरफ्तारियां भी की जा रही हैं. उन्होंने मिडिया को बताया कि इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल और फोर्स मौजूद की गई है अब हालत काबू में है।

इसी तरह की झारखंड से भी प्रदर्शनकारियों ने रांची पुलिस पर पथराव कर दिया। पुलिस अधीक्षक समेत अनेक पुलिसकर्मी घायल होने की सूचना केंद्रीय गृह मंत्रालय को मिली है।

सीएम योगी अलर्ट मोड पे है।

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी उपद्रवियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के लिए अधिकारियो को निर्देश दिए हैं। हिंसा से प्रभावित इलाकों की मॉनिटरिंग की जारही है । खासतौर से प्रयागराज में कई तरीकों से उपद्रवियों तक पहुंचा कोशिस की जा रही है ।अभी कुछ दिन पहले ही कानपुर पे भी ऐसी तरह की हिसां देखी गए थी वहा आरोपियों पे बुलडोज़र चलाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Choose Language