महाराष्ट्र में जारी सियासी उठापटक के बीच शिवसेना सरकार का जाना लगभग तय !

बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना के कद्द्वार नेता मंत्री एकनाथ शिंदे के साथ करीब 40 बागी विधायक पहले गुजरात और अब गुवाहाटी पहुंच चुके हैं. महाराष्ट्र के सियासत में एकनाथ शिंदे एक बहुत अहम् किरदार है लेकिन इस बार उन्होंने अपने ही पार्टी से बगावत कर दी है। जहां इस बगावत पे शिवसेना के संजय राउत
ने कहा है की ज्यादा से ज्यादा क्या होगा? महाराष्ट्र की सत्ता जाएगी’, इस ऑपरेशन कमल के जाल में शिवसेना और उद्धव ठाकरे दोनों की प्रतिष्ठा दांव पे है।

एकनाथ शिंदे पर बात करते हुए संजय राउत ने कहा कि वह शिवसैनिक हैं

एकनाथ शिंदे हमारे बहुत अच्छे मित्र हैं. सालों साल से हम एक दूसरे के साथ काम कर रहे हैं. उनके लिए आसान नहीं है पार्टी छोड़ना और हमारे लिए भी आसान नहीं है उनको छोड़ना.

महाराष्ट्र में जारी सियासी उठापटक के बीच शिवसेना के सीनियर लीडर संजय राउत का ये भी खा है कि ज्यादा से ज्यादा क्या होगा? महाराष्ट्र की सत्ता जाएगी. लेकिन पार्टी की गरिमा बरकरार रहेगी. संजय राउत ने यह बात एकनाथ शिंदे द्वारा की गई बगावत पर कही.

वहीं एकनाथ शिंदे मिडिया से बात करते समय वो बार-बार यह बात दोहरा रहे हैं कि वह कट्टर शिवसैनिक हैं और बालासाहेब की शिवसेना में ही रहेंगे. आप बता दें कि महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे के साथ करीब 40 बागी विधायक पहले गुजरात और अब गुवाहाटी पहुंच चुके हैं.

महाराष्ट्र में जारी सियासी उठापटक में कांग्रेस और शरद पवार की पार्टी राष्ट्रवादी कांग्रेस ने कहा है की उनका गठबंधन शिवसेना के साथ है वो अपना समर्थन जारी रखेंगे लेकिन इस पर फैसला शिवसेना को लेना है की वो अपने विधायकों से कैसे बात करेगी।

लेकिन शिवसेना में बड़ी बगावत से महाराष्ट्र में सरकार गिरना लगभग तय मन जा रहा है।

मिडिया के सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर ये है कि आज शाम तक इस्तीफा दे सकते हैं उद्धव ठाकरे

वही शिवसेना नेता संजय राउत ने महाराष्ट्र विधानसभा को भंग करने की सिफ़ारिश कर रहे है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Choose Language